ना है लाचारी अब ना है बेकारी भीम गीत लिरिक्स

ना है लाचारी अब ना है बेकारी  भीम गीत लिरिक्स

ना है लाचारी अब ना है बेकारी
दुश्मन पे भी हम है आज भारी
खासदार, आमदार, कलेक्टर, मिनीस्टर आज
भीमजी की कृपा से हम बने भीमजी की कृपा से…

बाबा ने अपनी है किस्मत सवारी
जो आज हमको मिली ये सरदारी
जलता रहेगा ये दुश्मन जमाना
कर ना सकेगा कोई सीनाजोरी
अब ना है कोई अनपढ अग्यानी
हर कोई है आज पढ लिख के ग्यानी
अफसर, प्रोफेसर और इंजीनियर, डॉक्टर आज
भीमजी की कृपा से हम बने भीमजी की कृपा से…

भुलेंगे कैसे हम वो जमाना
छलते थे हमको दे दे के ताना
कितने सितम वो हमने सहे है
थी कितनी मुश्कील हमने ही जाना
ठोकर पे मारी वो हमने गुलामी
दुश्मन भी हमको अब देंगे सलामी
ठाणेदार, फौजदार, कमिश्नर, बॅरिस्टर आज
भीमजी की कृपा से हम बने भीमजी की कृपा से…

उनकी कृपा है हम चलते है तनकर
बैठे है शान से हम भी कुछ बनकर
गुणगान बाबा का गाते रहेगा
जी जान से मरते दम तक पाटणकर
मिलकर रहेंगे ना हम डरेंगे
बस आगे आगे ही बढते चलेंगे
ताकतवर, हिँम्मतवर, शेरनर, धुरंधर आज
भीमजी की कृपा से हम बने भीमजी की कृपा से…

ना है लाचारी अब ना है बेकारी
दुश्मन पे भी हम है आज भारी
खासदार, आमदार, कलेक्टर, मिनीस्टर आज
भीमजी की कृपा से हम बने भीमजी की कृपा से…

गायक :- प्रकाश पाटणकर..

बाबासाहेब आनी रमाई

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *